सुगम्य भारत अभियान योजना की पूरी जानकारी | Sugamya Bharat Abhiyan Scheme

सुगम्य भारत अभियान योजना की पूरी जानकारी | Sugamya Bharat Abhiyan Scheme

Sugamya Bharat Abhiyan-Accessible India Campaign
Sugamya Bharat Abhiyan-Accessible India Campaign
Sugamya Bharat Abhiyan-Accessible India Campaign


Tags-sugamya bharat abhiyan,sugamya bharat,sugamya bharat abhiyan is launched by,sugamya bharat abhiyan is related to,sugamya bharat yojana,sugamya bharat abhiyan pib,about sugamya bharat abhiyan,sugamya bharat abhiyaan,sugamya bharat scheme,sugamya bharat abhiyan launched by,sugamya bharat abhiyan under which ministry,sugamya bharat abhiyan upsc,sugamya bharat abhiyan is related to,sugamya bharat abhiyan objectives,sugamya bharat abhiyan drishti ias,sugamya bharat abhiyan pib,सुगम्य भारत अभियान,सुगम्य भारत अभियान संबंधित है

 


Table of Contents
  • सुगम्य भारत अभियान क्या है?
  • Sugamya Bharat Abhiyan का ओवरव्यू
  • Sugamya Bharat Abhiyan का उद्देश्य
  • Sugamya Bharat Abhiyan के घटक क्या है?
  • सुगम्य भारत पोर्टल और सुगम्य भारत एप्प
  • Sugamya Bharat Abhiyan के लक्ष्य
  • सुगम्य भारत Portal पर  रजिस्ट्रेशन/लॉगिन कैसे करें?
  • सुगम्य भारत पर Feedback कैसे दे?
  • सुगम्य भारत Portal Helpline Number 
  • निष्कर्ष 

सुगम्य भारत अभियान क्या है?

Sugamya Bharat Abhiyan : – जनगणना 2011 के आंकड़ों के अनुसार भारत वर्ष में 2.68 करोड़ लोग अपंगता के शिकार थे, जो उस समय की कुल जनसंख्या का 2.21 प्रतिशत था। भारत सरकार ने विकलांग लोगों के अधिकारों को संरक्षित रखने के लिए कई कानून बनाए हैं, लेकिन विकलांग लोगों को अभी तक उनका पूरी तरह लाभ प्राप्त नहीं हुआ है। विकलांग व्यक्ति अधिनियम, 1955 की धारा 44, 45,व 46 में परिवहन, सड़क और निर्मित वातावरण में विकलांगो के अधिकारो को संरक्षित किया गया है। भारत सरकार ने विकलांग व्यक्ति अधिनियम, 1955 में संशोधन करते हुए उसे विकलांग व्यक्तियो का अधिकार अधिनियम, 2016 कर दिया है। 

विकलांग लोग समाज में सम्मान के साथ सभी सार्वजनिक स्थानों एवं परिवहन प्रणालियों में बाधा रहित स्थान प्राप्त कर पाए, इसके लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने  3 दिसंबर 2015 को अंतरराष्ट्रीय विकलांग दिवस पर विज्ञान भवन दिल्ली से  Sugamya Bharat Abhiyan (Accessible India Campaign) की शुरुआत की थी। सुगम्य भारत अभियान को शुरू करने के पीछे सरकार का  मानना है, की व्यक्ति सीमा और क्षमताओं के कारण विकलांग नहीं होता है, बल्कि सामाजिक व्यवस्था के तरीके के कारण विकलांग होता है।

Sugamya Bharat Abhiyan  शुरू करने के पीछे भारत सरकार का मुख्य उद्देश्य देशभर में दिव्यांग जनों के लिए बाधारहित और सुखद/ अनुकूल वातावरण तैयार करना है।  इस अभियान के माध्यम से सरकार ऐसे समावेशी समाज की परिकल्पना करती है, जिसमें दिव्यांगजन व्यक्तियों की प्रगति और विकास के लिए समान अवसर उपलब्ध कराए जा सके। ताकि दिव्यांगजन  उत्पादक, सुरक्षित और सम्मानजनक जीवन जी सकें। 

अगर आप Sugamya Bharat Abhiyan के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो मेरे इस पोस्ट को अंत तक अवश्य पढ़ें। क्योंकि मैं इस पोस्ट के माध्यम से Accessible India campaign से संबंधित समस्त पहलुओं पर विस्तार पूर्वक चर्चा करूंगा।



Sugamya Bharat Abhiyan का उद्देश्य

सुगम में भारत अभियान का मुख्य उद्देश्य  दिव्यांगजनों को जीवन के सभी क्षेत्रों में भागीदारी करने के लिए समान अवसर प्रदान करते हुए आत्मनिर्भरता का जीवन प्रदान करना है। इस अभियान का मुख्य उद्देश्य विकलांगजनों के लिए भौतिक वातावरण, परिवहन,  सूचना एवं संचार पारिस्थितिकी तंत्र विकसित करने का है।  Sugamya Bharat Abhiyan के अंतर्गत भारत सरकार विकलांग व्यक्तियों के सामाजिक एवं आर्थिक बदलाव के प्रति प्रतिबद्धता के साथ सार्वभौमिक पहुंच के लिए बड़े पैमाने पर जागरूकता अभियान चला रही है।


सुगम्य सरकारी इमारतों का अनुपात बढाना: – सुगम्य इमारत से आशय उस इमारत से है, जिसमें विकलांग व्यक्ति को प्रवेश करने और उनकी सुविधाओं के इस्तेमाल में किसी प्रकार की असुविधा ना हो। भारत सरकार द्वारा सुगम्य भारत योजना के अंतर्गत ऐसी इमारतों का अनुपात बढ़ाया जा रहा है, जो दिव्यांगजनों के लिए सुगम्य हो। ये इमारतें सुगम्यता के मानक ISO 21542:2011 के अनुरूप बनायी जा रही है। इन इमारतों को बनाते समय दिव्यांगों की सुविधाओं पर विशेष तौर से ध्यान दिया जाता है।
सुगम्य हवाई अड्डो  का अनुपात बढाना: – सुगम्य भारत योजना के अंतर्गत सुगम्य हवाई अड्डों के अनुपात को बढ़ाया जा रहा है। जिसके लिए हवाई अड्डों पर विभिन्न सुविधाओं को विकलांगजनो के अनुकूल बनाया जा रहा है, जैसे – प्रवेश द्वारा, हवाई जहाज में सवार होने, हवाई जहाज से उतरने, टिकट काउंटर, शौचालय सहित अन्य सुविधाएं।     
सुगम्य रेलवे स्टेशनो का अनुपात बढाना: – सुगम्य भारत योजना के अंतर्गत सुगम्य रेलवे स्टेशनो के अनुपात को बढ़ाया जा रहा है। जिसके लिए रेलवे स्टेशनो पर विभिन्न सुविधाओं जैसे – प्रवेश द्वारा, ट्रेन में सवार होने, ट्रेन से उतरने, टिकट काउंटर से टिकट लेने, शौचालय आदि को विकलांगजनो के अनुकूल बनाया जा रहा है ।     
सुगम्य सार्वजनिक परिवहन का अनुपात बढाना: – सुगम्य भारत योजना के अंतर्गत सुगम्य परिवहन व्यवस्था के अनुपात को बढ़ाया जा रहा है। जिसमें विकलांग व्यक्ति को स्वतंत्र रूप से सार्वजनिक और निजी परिवहन की बुनियादी सुविधाओं का उपयोग करने में एक समान अवसर प्रदान किया जा सके। इसके लिए संशोधित राष्ट्रीय शहरी परिवहन नीति (NUTP)-2014 के अनुसार सभी योजनाओं और उनके क्रियान्वयन में सार्वभौमिक सुगम्यता को शामिल किया गया है। 
सुगम्य उपयोगी सार्वजनिक दस्तावेज और वेबसाईटो का अनुपात बढाना: – सुगम्य भारत योजना के अंतर्गत सार्वजनिक दस्तावेज (केंद्र सरकार अथवा राज्य सरकार द्वारा जारी दस्तावेज जैसे कानून, नियम, रिपोर्ट, प्रपत्र तथा सूचना दस्तावेज आदि) को सुगम्य प्रारूपों में उपलब्ध कराया जा रहा है। सुगम्य भारत योजना के माध्यम से भारत सरकार यह सुनिश्चित कर रही है कि मौजूदा वेबसाईटो को ISO/IEC 40500: 2012 के अनुरूप तैयार किया जाए। ताकि विकलांग भी सूचनाओ का लाभ प्राप्त कर सके।  
 संचार माध्यमों में सुगम्य सांकेतिक भाषा का अनुपात बढाना: – सुगम्य भारत योजना के अंतर्गत संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में सांकेतिक भाषा के प्रयोग को बढ़ावा दिया जा रहा है। जैसे दिव्यांगजनों के लिए सांकेतिक भाषा में समाचार एव अन्य प्रोग्राम बनाये जा रहे है। 
Ayushman Bharat Yojana Registration Online


Sugamya Bharat Abhiyan के घटक क्या है?

निर्मित वातावरण सुगम्यता: – Sugamya Bharat Abhiyan का उद्देश्य प्रत्येक दिव्यांगजन के लिए सुलभ भौतिक वातावरण प्रदान करना है। सरकार ने इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए स्कूलों, चिकित्सालय सुविधाओं  और विभिन्न कार्य स्थलों  के साथ-साथ इनडोर और आउटडोर सुविधाओं में  विकलांगों के लिए उत्पन्न  हो रही बाधाओं और अवरोधों को दूर किया जा रहा है।   दिव्यांग जनों को सुगम्य वातावरण प्रदान करने के लिए  बड़ी इमारतों के साथ-साथ  रैंप, गलियारों, फुटपाथ, पार्किंग, प्रवेश द्वार, आपातकालीन निकास, शौचालय, लाइटिंग, अलार्म सिस्टम, आदि बाह्य एवं आंतरिक सार्वजनिक स्थानों को भी दिव्यांगजनों के अनुकूल बनाया  जाना है
परिवहन प्रणाली सुगम्यता: –  परिवहन के अंतर्गत हवाई यात्रा, बस, टैक्सी और ट्रेन आदि सेवाएं आती है, जो स्वतंत्र जीवन का एक महत्वपूर्ण घटक है।  Sugamya Bharat Abhiyan के अंतर्गत विकलांग व्यक्तियों को गरिमा और स्वतंत्रता के साथ सार्वजनिक और निजी परिवहन व्यवस्थाओ का उपयोग करने के लिए एक सम्मानजनक अधिकार प्रदान करने का प्रयास किया जा रहा है।   
सूचना एवं संचार इको प्रणाली सुगम्यता: – सूचनाएँ किसी भी व्यक्ति के लिए अवसर प्रदान करती है।  सूचना का सम्बंध टैग को पढ़ने में सक्षम होने, एक हॉल में प्रेवश करने,किसी कार्यक्रम में भाग लेने, स्वास्थ्य सम्बंधी सूचना पुस्तिका को पढना, ट्रेन की समय सारणी को पढ़ना, वेबसाइट पर सूचनाओ को पढना आदि से है।  Sugamya Bharat Abhiyan के अन्तर्गत भारत सरकार दिव्यागंजनो के सभी बुनियादी सुविधाओ के मार्ग में आने वाली सामाजिक बाधाओ और दुर्गम प्रारूपो पर अंकुश  लगाना है। ताकि दैनिक जीवन में जानकारी प्राप्त करने और उसका उपयोग करने के रास्ते में कोई बाधा ना आ सके। 

 

सुगम्य भारत पोर्टल और सुगम्य भारत एप्प

भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के विकलांगजन सशक्तिकरण विभाग द्वारा  सुगम्य भारतीय योजना  के सफल क्रियान्वयन के लिए एक आधिकारिक वेबसाइट की स्थापना की है, जिसके लिए सुगम में भारत नामक वेब पोर्टल बनाया गया है। 

2 मार्च 2021 को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्री थावरचंद गहलोत ने Sugamya Bharat Abhiyan को आगे बढाते हुए वचुअल माध्यम से Crowd Sourcing Mobile Applicaiton- ‘Sugamya Bharat App’ तथा  ‘Access-The Photo Digest’ के नाम से एक Handbook को Launch किया है। सशक्तिकरण विभाग, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार ने अगम्य स्थानो के बारे में अनुरोधो की क्राऊडसोर्सिग के लिए वेबसाइट के साथ साथ Sugamya Bharat Mobile App तथा Handbook को लांच किया है।

सुगम्य भारत मोबाइल एप्प के माध्यम से कोई भी नागरिक सरकार को अगम्य सार्वजनिक स्थान जैसे स्कूल, अस्पताल, सरकारी कार्यालय के बारे में सूचना दे सकता है। ऐसे अगम्य स्थान की फोटो या विडियो बनाकर सुगम्य भारत पोर्टल पर भेज सकता है। सरकार द्वारा ऐसी सूचना पर इमारत को पूरी तरह से सुगम्य बनाने के लिए सगम्यता जाँ, वित्तीय स्विकृति और आवश्यक बदलाव के अनुरोध पर कार्यवाही करेगी।  

सरकार सरकरा सुगम्य भारत एप्लिकेशन और पोर्टल में ऐसी बडी कम्पनीयों और सार्वजनिक क्षेत्रो के उपक्रमो की भागीदारी चाहती है, जो सुगम्यता जाँच का संचालन, इमारतो/परिवहन और वेबसइटो के सुगम्यता रूपान्तरण में सरकार की मदद कर सके। 

सरकार के मतानुसार सुगम्य भारत ऐप क्राउडसोर्सिंग मोबाइल एप्लीकेशन भारत में एक्सेसिबल इंडिया कैंपेन के तीन मुख्य स्तंभ  बिल्ट एनवायरमेंट, ट्रांसपोर्टेशन सेक्टर, आईसीटी इकोसिस्टम में सेंसिबिलिटी बढ़ाने का एक साधन है। यह एप्लीकेशन पांच ऐसी मुख्य सुविधाएं प्रदान करता है, जिनमें से चार सीधे सुगम्यता बढ़ाने से संबंधित हैं, जबकि पांचवी विशेषता कोरोनावायरस संबंधी मुद्दों वाले विकलांग लोगों के लिए है।

Sugamya Bharat Abhiyan के लक्ष्य

भारत सरकार ने Accessible India campaign के अन्तर्गत निश्चत समय सीमा के साथ महत्वाकांक्षी लक्ष्य रखे है, जो इस प्रकार है।

  • सबसे महत्वपूर्ण सार्वजनिक इमरातो की सुगम्यता का जाँच कर उन्हे पूर्ण सुगम्य इमारत में बदना।
  • जुलाई 2016 तक 26 शहरों में कम से कम 50 सबसे महत्वपूर्ण सरकारी इमारतों की सुगम्यता को जाचँ कर उन्हें पूर्ण सुगम्य इमारतों में  तब्दील करना।
  • जुलाई 2016 तक 24 शहरों में कम से कम 25 सबसे महत्वपूर्ण सरकारी इमारतों की सुगम्यता जाँचकर उन्हें पूर्ण सुगम्य इमारतों में तब्दील करना।
  • जुलाई 2018 तक राष्ट्रीय राजधानी  क्षेत्र दिल्ली एवं सभी राज्यों की राजधानियों के 50% सरकारी इमारतों को  पूर्ण सुगम्य इमारतों में कन्वर्ट करना।
  • जुलाई 2019 तक सभी राज्यों के 10 महत्वपूर्ण शहरों/नगरों के 50% सरकारी इमारतों की सुगम्यता जांच कर उन्हें पूर्ण सुगम्य इमारतों में रूपांतरित करना।
  • सभी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे, रेलवे स्टेशन, सरकारी स्वामित्व वाले सार्वजनिक परिवहन वाहनों की सुगम्यता जांच कर उन्हें पूर्ण सुगम्यता वाले अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे, रेलवे स्टेशन, सार्वजनिक परिवहन वाहनों में बदलना। 

  • जुलाई 2016 तक सभी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों की सुगम्यता जांच कर उन्हें  पूर्ण सुगम्य अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों में रूपांतरित करना। 
  • मार्च 2018 तक सभी घरेलू हवाई अड्डों की सुगम्यता जांच कर, उन्हें  पूर्ण सुगम्य हवाई अड्डों में बदलना
  • जुलाई 2016 तक देश के सभी ए1, ए, एवं बी श्रेणियों के रेलवे स्टेशन पूर्ण रूप से सुगम्य रेलवे स्टेशनों में  रूपांतरित करना।
  • मार्च 2018 तक देश के 50% रेलवे स्टेशन पूर्ण रूप से सुगम्य रेलवे स्टेशनों में बदलना।
  • मार्च 2018 तक सरकारी स्वामित्व वाले 25% सार्वजनिक परिवहन वाहक पूर्ण रूप से सुगम्य परिवहन वाहनों में रूपांतरित कर दिए जाएं। 
  • मार्च 2017 तक सभी सार्वजनिक दस्तावेजो एवं सरकारी वेबसाइटों के 50% तक की सुगम्यता की जांच कर पूर्ण रूप से सुगम्य बनना। 

  • मार्च 2017 तक सरकारी वेबसाईटों (केंद्र एवं राज्य सरकारों दोनों) के 50% की सुगम्यता जांच कर उन्हें पूर्ण रूप से सुगम्य वेबसाइटों में परिवर्तित करना।
  • मार्च 2018 तक केंद्र एवं राज्य सरकारों द्वारा जारी सभी सार्वजनिक दस्तावेजों का कम से कम 50% सुगम्यता मानकों  के अनुरूप रूपांतरण करना है।
  • मार्च 2018 तक 200 अतिरिक्त सांकेतिक भाषा के व्याख्याताओं का प्रशिक्षण एवं विकास सुनिश्चित करना। 
  • राष्ट्रीय मीडिया के अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श करके जुलाई 2016 तक अनुशीर्षकों एवं सांकेतिक भाषा में व्याख्या पर राष्ट्रीय मानकों को विकसित करना एवं उन्हें  अपनाना।
  • मार्च 2018 तक सरकारी चैनलों द्वारा जारी सभी सार्वजनिक टेलीविजन कार्यक्रम सुगम्यता मानको पूरा करने वाले हो।
  • भारत सरकार का सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय, सुगम्य पुलिस स्टेशनों, सुगम्य अस्पतालों, सुगम्य पर्यटन स्थलों, सुगम्य डिजिटल भारत आदि बनाने के लिए केन्द्र सरकार के सभी विभागों / मंत्रालयों और एवं राज्य सरकारों से सहयोग की अपेक्षा करता है।


सुगम्य भारत Portal पर  रजिस्ट्रेशन/लॉगिन कैसे करें?

यदि कोई नागरिक Sugamya Bharat Abhiyan  पोर्टल से जुड़ना चाहता है और  आधिकारिक वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करना चाहता है, तो नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें। 

  • सर्वप्रथम   Accessible India campaign की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। ऑफिशियल वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा। 
  • अगर आप पहले से Sugamya Bharat Abhiyan पोर्टल पर पंजीकृत हैं तो Home Page पर Top Header के Right Side में  Registerd User? Login Here का विकल्प दिखाई देगा। Registerd User? Login Here के विकल्प पर क्लिक करें।
  • sugamya-bharat-abhiyan-Login
  • Login Page खुल जाएगा। जहाँ अपना Mobile Number/ Email ID तथा Password को दिए गए निर्धारित कॉलम में भरे। दिए गए Captcha Code को दिए गए Field में भरे और  Sign UP के बटन पर Click करे। 
  • अगर आप इस पोर्टल  का प्रयोग पहली बार कर रहे हैं, Home Page पर Top Header के Right Side में New User?/Sign Here के विकल्प दिखाई देगा।  तो New User?/Sign Here के  बटन पर Click करे। 
  • sugamya-bharat-abhiyan-registration
  • User Registration Form खुल जाएगा। User Registration Form में अपना नाम, ई मेल पता, मोबाइल नम्बर, पता दिए गए Fields में भरे। Drop Down List से अपने जिले का चुनाव करे। 
  • अपनी फोटो का चुनाव कर Upload करे तथा अपना Password Set करे। दिए गए Captcha Code को दिए गए Fields में भरे और Submit के बटन पर Click करे। 
  • सुगम्य भारत पोर्टल पर इस तरह आपका Registration हो जाएगा और आपके मोबाइल नम्बर और Email पर User ID & Password प्राप्त होगे, जिनकी मदद से आप आसानी से Sugamya Bharat Abhiyan पोर्टल पर Login कर सकते है। 
सुगम्य भारत पर Feedback कैसे दे?

यदि कोई नागरिक Sugamya Bharat Abhiyan के संबंध में  एक्सेसिबल भारत  कैंपेन पोर्टल से अपना Feedback देना चाहता है , तो नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें। 

  • सर्वप्रथम Sugamya Bharat Abhiyan की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। ऑफिशियल वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा। 
  • अगर आप पहले से Accessible India campaign पोर्टल पर पंजीकृत हैं तो Home Page पर Footer में Feedback का विकल्प दिखाई देगा।
  • Feedback के लिक पर Click करे। Feedback Form खुल जाएगा। जहाँ  अपना नाम, Email Address, Contact Number को दिए गए Column में भरे। 
  • Comment Box में अपना Feedback Type करे। दिए गए Captcha Code को दिए गए Field में भरे और Submit के बटन पर Click करे। 
  • Submit के बटन पर Click करते ही आपका Feedback सुगम्य भारत पोर्टल पर Submit हो जाएगा।   


सुगम्य भारत Portal Helpline Number 

इस पोस्ट के माध्यम से Sugamya Bharat Abhiyan समस्त पहलुओं पर विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान की गई है। अगर  इस पोस्ट को पूर्णतया पढ़ने के बाद भी किसी व्यक्ति को  Accessible India campaign के संबंध में किसी प्रकार की जानकारी चाहिए, तो वह नीचे दिए गए पते पर संपर्क नंबर अकर सकता है। 

Department of Empowerment of Persons with Disabilities,

Ministry of Social Justice & Empowerment,

B-II Block, 5th Floor,

Paryavaran Bhawan, CGO Complex, Lodhi Road,

New Delhi – 110003 (India).

ई धरती अपना खाता राजस्थान पोर्टल 

निष्कर्ष 
सुगम्य भारत अभियान (Accessible India Campaign) भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय की  दिव्यांग जनों को लेकर एक महत्वपूर्ण पहल है। इस अभियान के अंतर्गत सार्वजनिक सेवाओं, यातायात साधनों, डाक्यूमेंट्स आदि को विकलांग जनों के अनुकूल बनाने के लिए शुरू किया गया है।  ताकि विकलांग जन को होने वाली असुविधा से निजात दिलाई जा सके।  इस योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए भारत सरकार ने सुगम्य भारत पोर्टल के साथ-साथ सुगम्य भारत मोबाइल एप्लीकेशन की भी शुरुआत की है।  इन प्लेटफार्म का प्रयोग कर कोई भी नागरिक सार्वजनिक स्थलों पर असुगम्यता की जानकारी दे सकता है या उसकी फोटो या विडियो Upload कर सकता है। 


FAQs Related to  Sugamya Bharat Abhiyan

Q.-1.  Sugamya Bharat Abhiyan  को किस सरकारी विभाग द्वारा शुरू किया गया है?
Ans: – Sugamya Bharat Abhiyan की शुरुआत विकलांग जन सशक्तिकरण विभाग, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार के द्वारा 3 दिसंबर 2015 को की गई थी।  जबकि सुगम्य भारत  मोबाइल ऐप की शुरुआत सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने 2 फरवरी 2021 को की थी। 

Q.-2.   Accessible India campaign की शुरुआत कब और किसके द्वारा की गई थी?
Ans: –  सुगम्य भारत अभियान (Accessible India Campaign) की शुरुआत 3 दिसंबर 2015 को अंतरराष्ट्रीय विकलांग दिवस के अवसर पर विज्ञान भवन दिल्ली से प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने की थी। 

Q.-3.  Sugamya Bharat App  को किसने लांच किया था?
Ans: – सुगम्य भारत  मोबाइल ऐप की शुरुआत सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने 2 फरवरी 2021 को की थी। 

Leave a Comment